Nawaz Poetry Archives - Helpless Minority

Nawaz Poetry

helpless minority

Paigame Muhabbat – Written By Nwaz

April 30, 2018

Paigame Muhabbat Ab koi nhi samajh pata is gum ko Ab ye gum chupa hi rahe duniya se to acha h Jindagi ka adha hissa to bsar kar li Woh akhri jhalak meri kya Yaad h tumko aksarha sochta hoon aur ek beman si muskan aa jati hai Tum sath aaj hote to ye karta […]

1,452 total views, no views today

Read More
missing you

तेरी जिंदगी से बहुत दूर चले जाना है

April 14, 2018

Sad Poetry तेरी जिंदगी से बहुत दूर चले जाना है फिर न लौट कर इस दुनिया में आना है, बस अब बहुत हुआ ……………………. अब किसी का भी चेहरा इस दिल में कभी नहीं बसाना है…………………….. तुम्हारी जिंदगी में अब मैं नहीं तुम्हारी जिंदगी में अब कोई और सही पर मेरे दिल में तुम हमेशा […]

958 total views, no views today

Read More