महंगाई हो गयी कम, मार्च में खुदरा मुद्रास्फीति घटकर 4.28 फीसदी हो गयी

helpless minority

दोस्तों अपना विचार कमेंट बॉक्स में जरूर दे आधिकारिक आंकड़े गुरुवार को जारी किए गए. साल-दर-साल आधार पर उपभोक्ता मूल्य सूचकांक हालांकि पिछले महीने उच्च स्तर पर रही, क्योंकि 2017 के मार्च में यह 3.89 फीसदी पर थी.

नई दिल्ली: खाने पीने की चीजों के दाम में राहत के कारण मार्च में खुदरा मुद्रास्फीति की दर घटकर 4.28 फीसदी रही, जो फरवरी (2018) में 4.44 फीसदी पर थी. आधिकारिक आंकड़े गुरुवार को जारी किए गए. साल-दर-साल आधार पर उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) हालांकि पिछले महीने उच्च स्तर पर रही, क्योंकि 2017 के मार्च में यह 3.89 फीसदी पर थी.

दोस्तों हमें जरूर बताये की हम और इम्प्रूव कैसे करे

टिप्पणियांकेंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक (सीएफपीआई) मार्च में 2.81 फीसदी पर रही, जबकि फरवरी में यह 3.26 फीसदी पर थी.

पिछले हफ्ते भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने अपनी द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा में चालू वित्तवर्ष के लिए मुद्रास्फीति की दर 4.7 फीसदी से 5.1 फीसदी के बीच रहने और वित्तवर्ष की दूसरी छमाही में इसे 4.4 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है.

आरबीआई ने वाणिज्यिक बैंकों के लिए अल्पकालिक ऋण दरों में कोई परिवर्तन नहीं किया था.
अपना विचार देना न भूले दोस्तों। ..

662 total views, 7 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *